Recents in Beach

संकिसा पंहुचे बौद्ध धर्म गुरु दलाई लामा :- jni news on

फर्रुखाबाद:(संकिसा) दलाई लामा के हबाई पट्टी पर उतरते ही जिलाधिकारी मोनिका रानी व एसपी संतोष मिश्रा के साथ ही सांसद मुकेश राजपूत व एसडीएम सदर अमित आसेरी ने बुके देकर स्वागत किया। पुलिस पूरी तरह से सक्रिय हो गयी। इटावा-बरेली हांई-वे बंद कर दिया गया। सड़क मार्ग से उन्हें संकिसा लाया गया जंहा उन्होंने वालंटियरों से भेट की और उन्हें आशीर्वाद दिया।

 पुलिस ने उनके आने के कुछ देर पूर्व ही सकवाई गाँव के निकट व दूसरी तरफ लखमीपुर गाँव के पास से वाहनों को आगे जाने से रोंक दिया। बौद्ध धर्म गुरु दलाई लामा को देखने के लिये सड़क के दोनों तरफ ग्रामीणों की काफी भीड़ लगी हुई थी। सड़क पर भीड़ को रोकने के लिये जगह-जगह सुरक्षा कर्मी तैनात थे। पुलिस ने दोनों तरफ सड़क की पटरी पर वाहनों को नहीं खड़ा होने दिया और दुकानें भी पुलिस ने बंद करा दी। हवाई पट्टी व उसके निकट इलाके को सुबह लगभग आठ बजे दलाई लामा के आगमन से पहले छाबनी बना दिया गया था। हवाई पट्टी से दलाई लामा एंबेसडर गाड़ी में आगे बैठ संकिसा के लिए सड़क पर से रवाना हुए। सड़क के दोनों तरफ लगी भीड़ को देखकर उन्होंने हाथ हिलाकर लोगों का अभिवादन किया। कई जगह भीड़ बेकाबू हो गयी। जिसको काबू में करने के लिये पुलिस को काफी परेशानी उठानी पड़ी। मार्ग से होते हुये उनका काफिला संकिसा पंहुचा। जंहा उन्होंने होटल रॉयल रेजीडेंसी पहुंचे में वालंटियरों से भेट की और उन्हें आशीर्वाद देने के साथ ही और हिंसा छोडऩे का आह्वान किया।अपनी भाषा में वालंटियर्स से वार्ता कर रहे धर्मगुरु दलाई लामा के साथ मौजूद अनुवादक ने हिंदी में लोगों को जानकारी दे रहा था। अगले तीन दिन तक उनका प्रवचन कार्यक्रम होगा। इसके लिए संकिसा में अनुयायी पहुंच चुके हैं और पंडाल में करीब एक लाख लोगों के बैठने की व्यवस्था की गई है। शनिवार तक 10 देशों के अनुयायी पहुंच चुके हैं और करीब 36 देशों से अनुयायी आने की संभावना है। इंग्लैंड, अमेरिका, जर्मनी, पोलैंड, थाईलैंड, रसिया, भूटान, तिब्बत, मंगोलिया व स्विटजरलैंड से आए श्रद्धालुओं ने पूजा अर्चना की। उनके साथ गाइड वांगचंद्र शो आया| सभी अनुयायी पांच दिसंबर तक रुकेंगे।