Recents in Beach

उद्धव भी बोले-चौकीदार चोर है।

मुंबई: शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने सोमवार को अपनी वरिष्ठ सहयोगी भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर परोक्ष हमला करने के लिए ‘चौकीदार चोर है’ के नारे का इस्तेमाल किया. विपक्षी पार्टी कांग्रेस राफेल सौदे के संदर्भ में प्रधानमंत्री के लिए यह नारा इस्तेमाल करती रही है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने फ्रांस के साथ 58000 करोड़ रुपये के राफेल सौदे व उसके ऑफसेट अनुबंध देने में अनियिमतताओं और पक्षपात का दावा करने के लिए ‘चौकीदार चोर है’ का नारा बार बार बोला है और मोदी पर निशाना साधा है। सोलापुर जिले में इस मंदिर नगरी में एक रैली में ठाकरे ने एक घटना का उल्लेख करते हुए अलग संदर्भ में इस नारे का इस्तेमाल किया।

उन्होंने कहा, ‘राज्य के एक दौरे के दौरान एक किसान ने कीट संक्रमित नींबू का पौधा दिखाया. यह पौधा कीटनाशकबनाने के लिए उपयोग किया जाता है लेकिन यह खुद ही कीट के हमले के गिरफ्त में आ गया था. किसान ने मुझसे कहा कि जीवन में पहली बार उसने नींबू के पौधे को संक्रमित होते देखा है जबकि इसके पौधे कीटनाशक बनाने के लिए तैयार किए जाते रहे हैं. मैंने उससे कहा कि अब दिन बदल गये हैं. चौकीदार ही चोर बन गये हैं.’

उन्होंने मराठी में बोलते हुए ‘पाहरेकरी’ शब्द का उपयोग किया जिसका अर्थ चौकीदार भी होता है. ठाकरे का राजनीतिक दल शिवसेना केंद्र और महाराष्ट्र में भाजपा के साथ सरकार में शामिल है. ठाकरे ने वैसे तो किसी का नाम नहीं लिया लेकिन उनके बयान का महत्व किसी से छिपा नहीं है।

राफेल सौदे के मसले को उठाते हुए उन्‍होंने कहा कि कॉन्ट्रैक्ट एक ऐसी कंपनी के पास है जिसे कोई अनुभव नहीं. मोदी सरकार ने जवानों की वेतन वृद्धि से इनकार किया, लेकिन भ्रष्टाचार के आरोपों के बावजूद राफेल विमान सौदे पर आगे बढ़ रही है।

आगे उद्धव ने कहा, 'भाजपा सीधे तौर पर राफेल डील में शामिल है. प्रधानमंत्री ने कहा था कि किसानों की आय दुगनी होगी, लेकिन अब चुनाव आने वाला है और किसानों की आय नहीं बढ़ी है. दरअसल, वह एक चुनावी जुमला था. प्रधानमंत्री के पास दूसरे देश में जाकर चेहरा चमकाने का वक्त है, लेकिन उनके पास महाराष्ट्र के किसानों के पास जाने का समय नहीं.'
वहीं राम मंदिर के मुद्दे पर ठाकरे ने कहा, जद (यू) के नीतीश कुमार और लोजपा के रामविलास पासवान को हिन्दुत्व और अयोध्या में राम मंदिर निर्माण पर अपना रूख घोषित करना चाहिए. साथ ही उन्होंने कहा कि मिजोरम और तेलंगाना के चुनाव परिणामों ने स्पष्ट संदेश दिया है कि मतदाताओं ने राष्ट्रीय पार्टियों के बजाय मजबूत क्षेत्रीय दलों को चुना है.
वरिष्ठ शिवसेना नेता और राज्य सभा सदस्य संजय राउत ने पंढरपुर से पत्रकारो से कहा, 'राम मंदिर हमारे लिए चुनाव का मुद्दा नहीं है. अयोध्या की रैली के बाद कार्यकर्ताओं में काफी उत्साह है. पंढरपुर को दक्षिण काशी कहते हैं. यही इस शहर की विशेषता है. विठोबा-रखूमाई कामगारों, किसानों व मजदूरों के भगवान हैं.'...और पढ़ें>>>

    अगली खबर>>>                                                पिछली खबर>>>