बेहतरीन अदाकार और जबर्दस्त संवाद लिखने वाले कादर खान की हालत काफी नाज़ुक है. 81 साल की उम्र के कादर खान के बेटे ने जानकारी दी की कादर खान दिमाग की एक गंभीर बीमारी से जूझ रहे हैं और उनके मस्तिष्क ने काम करना बंद कर दिया है.

प्रोग्रेसिव सुप्रान्यूक्लियर पाल्सी डिसऑर्डर नाम की बीमारी से ग्रसित थे और आखिरी बार साल 2015 में फिल्म 'दिमाग का दही' में वो नज़र आए थे. लंबे समय से वो कनाडा में अपने बेटे सरफराज़ और बहू शाइस्ता के साथ रह रहे थे और अब बेटे सरफराज़ ने उनकी तबियत की अपडेट दी है.

सरफराज़ की ओर से दी गई अपडेट के मुताबिक वो कुछ समय से तकलीफ में थे और संतुलन बना पाने में असमर्थ थे.
कादर खान ने 300 से ज्यादा फिल्मों में अभिनय और सवांद लेखन का काम किया. अपनी बुलंद आवाज़ और ग़ज़ब की कॉमिक टाइमिंग के लिए जाने जाने वाले कादर खान ने कई सुपरहिट फिल्मों में काम किया.

90 के दशक में गोविंदा और कादर खान की जोड़ी को हिट फॉर्मूला माना जाता था और इन दोनों ने 'दूल्हे राजा', 'कुली न 1', 'राजा बाबू' और 'आँखे' जैसी फिल्मों में काम किया. इसके अलावा वो 'कुली' में अमिताभ के साथ, 'हिम्मतवाला' में जीतेंद्र के साथ महत्वपूर्ण भूमिकाएं निभा चुके हैं.’...और पढ़ें>>>

 अगली खबर>>>                             पिछली खबर>>>

>> रेलवे मे नौकरी पाने का सुनहरा मौका।