पटना : राष्ट्रीय जनता दल के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव  के बेटे तेज प्रताप यादव  ने जान का खतरा बताया है और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार  से और सुरक्षा की मांग की है. उन्होंने राज्य में बिगड़ती कानून एवं व्यवस्था का जिक्र करते हुए कहा कि उनकी सुरक्षा बढ़ाई जाए. मीडिया से बात करते हुए तेज प्रताप ने कहा, 'मुझे डर है कि कोई किसी को भी मार सकता है. हर रोज एक हत्या हो रही है. मैं मुख्यमंत्री से अपील करता हूं कि मेरी सुरक्षा बढ़ाई जाए. राज्य में कानून एवं व्यवस्था बिगड़ रही हैं. मैं सड़क पर चलने से डरता हूं.'

यादव ने साथ ही कहा, 'एक समय के बाद बॉडीगार्ड्स भी काफी नहीं हैं.' बता दें, 30 दिसंबर को राज्य के औरंगाबाद जिले में नक्सलियों ने एक युवक को गोली मार दी थी और कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया. 
बता दें, तेजप्रताप यादव नए साल के मौके पर मंगलवार को अपने भाई तेजस्वी यादव के सरकारी आवास पर जाकर अपनी मां यानी पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी से मुलाकात की थी और उनका आर्शीवाद लिया. मां से भेंट करने के बाद तेजप्रताप ने अपनी पत्नी ऐश्वर्या से सारे रिश्ते-नाते खत्म करने की बात दोहराई. वहीं उन्होंने कहा कि मां उनके हर फैसले के साथ हैं.
उन्होंने बाहर पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा था कि इतने दिनों के बाद कोई भी अपनी मां से मिलेगा तो भावुक तो हो ही जाएगा. मां तो मां होती है. ऐश्वर्या से तलाक संबंधी एक प्रश्न पर तेजप्रताप ने कहा था, 'उसके (ऐश्वर्या) परिवार वालों से मेरा सभी रिश्ता-नाता समाप्त हो गया. उन लोगों ने मेरे साथ क्या व्यवहार किया है, यह मैं बता नहीं सकता. ऐश्वर्या के परिवार वालों ने मेरे पीछे सीआईडी (जासूस) छुड़वा दिया है. खैर, इससे कुछ होना-जाना नहीं है. मैंने अदालत में सारी बातें बता दी हैं.


Gullimaar