भारत की राजनीती में उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) एक बड़ी भूमिका निभाता है। 80 लोक सभा (Lok Sabha election 2019) सीट बाला प्रदेश जिसे हर राजनीतिक पार्टी जितना चाहती है। आप को बता दे लोक सभा 2019 में सपा (SP) और बसपा (BSP) मिल के चुनाव लड़ रही है। अखलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने इस गठबंधन पे कहा कि भाजपा एक बड़ी पार्टी है कई प्रदेशो में उसकी सरकार है। जिसको रोकने के लिए यह गठबंधन होना जरुरी था।



लोक सभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस को बड़ा झटका।

अखलेश यादव ने कहा की भाजपा की सरकार उत्तर प्रदेश से ही है। अगर यूपी की सीट हटा दे तो भाजपा की सरकार नहीं है। इस चुनाव में भाजपा को रोकने के लिए उत्तर प्रदेश से रोकना बहुत जरूर है। जमीन से वोट कैसे मिले, भाजपा को कैसे रोका जाये इसके लिए हम बहुत पहले से तैयारी कर रहे है। जिसके लिए हमें ये गठबंधन करने की जरुरत पड़ी और सही बक्त पे गठबधन हुआ। सपा के कार्यकर्ता हर गाँव में है और बसपा भी पुरानी पार्टी है।  इसके भी कार्यकर्ता हर जगह लगभग मौज़ूद है। इसलिए भाजपा को रोकने के लिए ये गठबंधन जरूरी था।  उन्होने कहा की मुझे पूरा यकीन है हम अपने लक्ष्य में कामयाबी प्राप्त करेंगे।

सपा ने जारी की चार और प्रत्याशियों सूचि अपर्णा यादव को झटका।

JNI NEWS