मैनपुरी में साझा रैली को सम्बोधित करते हुए मायावती बोली मुलायम सिंह मोदी की तरह फ़र्ज़ी पिछड़ी जाती के नहीं है। उन्होंने कहा मुलायम सिंह जी में पिछड़े लोगो को जोड़ा है। मायावती बोली यहाँ की उमड़ी भीड़ से ज़ाहिर होता है की आप लोग सपा संस्थापक मुलायम सिंह को भारी बहुमत से जीत दिलाकर संसद भेजेंगे। कभी कभी बहुत बड़ा कदम उठाना पड़ता है। 2 जून 1995 के गेस्ट हाउस कांड को भुला कर हम फिर से साथ आये है।



मायावती ने कांग्रेस को आड़े हाथो लेते हुए कहा की हम अपने देश वाशियो को थोड़ी सी आर्थिक मदद नहीं देंगे बल्कि बड़ी सरकारी मदद करेंगे। बीजेपी पर भी हमला किया और बहा आये लोगो से पूछा की किया आप लोगो को 15-15 लाख रुपये मिले।

ये भी पढ़े >> हार्दिक पटेल को रैली के दौरान एक शख्स ने मारा थप्पड़, बीजेपी पर लगाया आरोप।

साझा रैली का नज़ारा देखने लायक था। मुलायम सिंह यादव ने कहा की बसपा सुप्रीमो मायावती का हमेशा सम्मान करना। उन्होंने मेरा हमेशा साथ दिया है। मंच पे जब मुलायम सिंह को जब पीने के लिए पानी दिया गया तो उन्होंने ने पूछा की मायावती को पानी दिया गया है। फिर जब मुलायम सिंह जनता को सम्बोधित करने के लिए खड़े हुए तो उनके सम्मान में मायावती भी कड़ी हो गई। मुलायम सिंह ने कहा की ये मेरा आखिरी चुनाव है और आप लोगो से गुज़ारिश है की भारी बहुत से जीत दिलाये।

ये भी पढ़े >> कानपुर में ट्रैन हादसा, पटरी से उतरी पूर्व एक्सप्रेस।

JNI NEWS